'भाषान्तर' पर आपका हार्दिक स्वागत है । रचनाएँ भेजने के लिए ईमेल - bhaashaantar@gmail.com या bhashantar.org@gmail.com । ...समाचार : कवि स्वप्निल श्रीवास्तव (फैज़ाबाद) को रूस का अन्तरराष्ट्रीय पूश्किन सम्मान। हिन्दी के वरिष्ठ कवि केदारनाथ सिंह को 49 वाँ ज्ञानपीठ पुरस्कार। भाषान्तर की हार्दिक बधाई और अनन्त शुभकामनाएँ।

तलाशी / पंकज सिंह

वे घर की तलाशी लेते हैं
वे पूछते हैं 
तुमसे 
तुम्हारे भगोड़े बेटे का पता-ठिकाना

तुम मुस्कुराती हो 
नदियों की चमकती मुस्कान

तुम्हारा चेहरा 
दिए की एक ज़िद्दी लौ-सा 
दिखता है
निष्कम्प और शुभदा

(रचनाकाल:1976)

[ श्रेणी : कवि। पंकज सिंह]