'भाषान्तर' पर आपका हार्दिक स्वागत है । रचनाएँ भेजने के लिए ईमेल - bhaashaantar@gmail.com या bhashantar.org@gmail.com । ...समाचार : कवि स्वप्निल श्रीवास्तव (फैज़ाबाद) को रूस का अन्तरराष्ट्रीय पूश्किन सम्मान। हिन्दी के वरिष्ठ कवि केदारनाथ सिंह को 49 वाँ ज्ञानपीठ पुरस्कार। भाषान्तर की हार्दिक बधाई और अनन्त शुभकामनाएँ।

अनुज लुगुन / परिचय

अनुज लुगुन कविता के क्षेत्र में एक नया आदिवासी नाम है। वे सिमडेगा जिले के जलडेगा पहान टोली के रहने 
अनुज लुगुन
वाले हैं। 10 जनवरी 1986 को जन्मे लुगुन मुंडा समुदाय से आते हैं। 2007 में रांची विश्र्वविद्यालय से स्‍नातक करने के बाद वे बीएचयू चले गए। वहीं से उन्होंने हिंदी में एमए किया और फिलवक्त वे वहीं से मुंडारी आदिवासी गीतों में आदिम आकांक्षाएं और जीवन-राग विषय पर शोध कर रहे हैं। अघोषित उलगुलान कविता हिंदी संस्कारों का निर्वाह करते हुए धूमिल व पाश के आसपास खड़ी होती है। लेकिन इसकी आत्मा में आदिवासी जीवनदर्शन है। अनुज की दूसरी कविताओं के साथ-साथ अघोषित उलगुलान में भी परिलक्षित कर सकते हैं। जो बहुत वोकल नहीं होता।

[श्रेणी :  परिचय । अनुज लुगुन ]