'भाषान्तर' पर आपका हार्दिक स्वागत है । रचनाएँ भेजने के लिए ईमेल - bhaashaantar@gmail.com या bhashantar.org@gmail.com । ...समाचार : कवि स्वप्निल श्रीवास्तव (फैज़ाबाद) को रूस का अन्तरराष्ट्रीय पूश्किन सम्मान। हिन्दी के वरिष्ठ कवि केदारनाथ सिंह को 49 वाँ ज्ञानपीठ पुरस्कार। भाषान्तर की हार्दिक बधाई और अनन्त शुभकामनाएँ।

एक एक बॉल पर / अनिरुद्ध नीरव

देखता क्रिकेट
एक आदमी सूखी सी डाल पर
तालियाँ बजाता है 
एक एक बॉल पर

मन में स्टेडियम
प्रवेश की 
चाहत तो है 
लेकिन हैसियत नहीं इतनी 
ऊँचाई पर भीड़ भाड़ गरमी से
राहत तो है
लेकिन कैफियत नहीं,
भागा है काम से
नहीं गया आज वह खटाल पर

दिखता है
खास कुछ नहीं लेकिन
भीतर है नन्हा सा आसरा
इधर उठेगा कोई ‘छक्का’ तो
घूमेगा स्वतः कैमरा
पर्दे पर आने की
यह ख्वाहिश
कितना भारी आटे दाल पर

[ श्रेणी : नवगीत । अनिरुद्ध नीरव ]